महेश भट्ट, यदि पूजा मेरी बेटी नहीं होती तो मैं उससे शादी कर लेता। सबके सामने कर दिया था Kiss!

Entertainment

फिल्ममेकर महेश भट्ट को किसी परिचय की जरूरत नहीं है। वो बॉलीवुड की उन हस्तियों में से हैं जो सही को सही और गलत को गलत कहने में हिचकिचाते नहीं हैं।




चार दशक के करियर में महेश ने खुद को एक बड़े मुकाम तक पहुंचाया है। ‘अर्थ’, ‘सारांश’, ‘डैडी’, ‘आवारगी’ जैसी फिल्मों का निर्देशन करके महेश ने अपने अासाधारण निर्देशक होने का रिकॉर्ड साबित कर दिया था।




इसके अलावा उन्हें बॉलीवुड में कई प्रतिभाशाली कलाकारों और गायकों के करियर की शुरूआत का श्रेय जाता है। कंगना रनौत, इमरान हाशमी, आशुतोष राणा महेश भट्ट की ही खोज हैं। उन्होंने सीमा पार के कलाकारों को भी बढ़ावा दिया और भारत-पाक संबंधों के समर्थक रहे हैं।




हालांकि, भट्ट का सुर्खियों में रहना एक आदत है। वह हर मुद्दे पर एक राय रखते हैं। चाहे वो राजनीतिक हो या सामाजिक। उनकी इसी आदत से उन्हें प्रशंसक और आलोचक दोनों मिले हैं। जानिए ऐसी ही कुछ बातें जिनके कारण वो चर्चा में रहे।




महेश भट्ट की सबसे बड़ी कांट्रोवर्सी थी उनकी बेटी के साथ ‘लिप-लॉक’। जी हां, महेश ने एक मैगजीन कवर के शूट के लिए अपनी बेटी के साथ होंठ पर किस करते हुए फोटो खिंचवाई थी। उन्होंने यह तक कहा था कि यदि पूजा मेरी बेटी नहीं होती तो मैं उससे शादी कर लेता।




महेश के बेटे राहुल ने भी अपने पिता पर इल्जाम लगाए थे। उसने कहा था कि महेश भट्ट के कारण ही वो और 26/11 हमलों के आरोपी डेविड हेडली की दोस्ती हुई। राहुल ने कहा था कि अगर महेश भट्ट मेरे लिए पिता बनकर रहते तो मैं कभी भी हेडली से दोस्ती नहीं करता। राहुल ने अपनी किताब ‘हेडली एंड आई’ में खुद को बिगड़ा हुआ बच्चा बताया है। इसमें महेश भट्ट पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने राहुल को कभी अपने बच्चे की तरह नहीं रखा।




चैट शो ‘कॉफी विद करण’ में जब महेश भट्ट से अभिनय की क्षमता के अनुसार सुपर स्टार को रैंक करने के लिए कहा गया था तो उन्होंने आमिर खान को आखिरी स्थान दिया था। उन्होंने फिल्म ‘लगान’ और ‘डैली बैली’ के लिए आमिर की आलोचना भी की थी।




उसी शो में महेश भट्ट ने संजय लीला भंसाली को जरूरत से ज्यादा मूल्यांकित निर्देशक और काजोल को जरूरत से ज्यादा मूल्यांकित अभिनेत्री कहा था। उनके इस जवाब ने शो के होस्ट करण जौहर को चौंका दिया था। क्योंकि करण काजोल के बेहद अच्छे दोस्त और प्रशंसक हैं। शो में महेश ने सबसे ज्यादा मूल्यांकित फिल्म ‘बर्फी’ को बताया।




एआईबी रोस्ट विवाद के दौरान महेश ने कहा था कि सोनाक्षी सिंहा भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिंहा की बेटी हैं इसलिए उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं हुई है। इसी पर सोनाक्षी ने भी जवाब देते हुए कहा था कि उनका नाम उस एफआईआर में भी है जहां महेश भट्ट की बेटी आलिया भट्ट का नहीं है।




दूर से देखने में फिल्मी दुनिया भले ही एक चमचमाती रौशनी की तरह दिखती हो, मगर जैसे- जैसे हम इसके करीब आने लगते हैं तो पता चलता है इस दिये तले एक घने अंधेर के सिवा और कुछ नहीं है। यहां लाइम लाइट में रहने के लिए कोई भी कुछ भी कर सकता है, इतना ही नहीं बल्कि यहां लोग किसी भी हद तक जा सकते हैं। इसी सिलसिले में आज हम एक ऐसे मशहूर निर्देशक के बारें में आपको बताने जा रहे हैं जिसने अपने मन की बात बताते हुए कुछ ऐसा हक डाला जिसे सुनते ही कोई भी बाप या बेटी शर्म से सिर झुका लेंगे।

Leave a Reply